गुलाम कश्मीर को जल्द वापस लेगा भारत: कविंद्र गुप्ता

बुधवार को कहा कि कश्मीर के पाकिस्तान में विलय का ख्वाब देखने वालों को हकीकत जान लेनी चाहिए। ऐसा कभी नहीं होगा, बल्कि गुलाम कश्मीर को भारत जल्द ही वापस लेगा।

यहां पार्टी मुख्यालय में बातचीत में कविंद्र गुप्ता ने कहा कि भारत ने कोई पहली बार पाकिस्तान की तरफ दोस्ती और शांति के लिए हाथ नहीं बढ़ाया है। कई बार हमारी तरफ से दोस्ती के लिए पहल हुई है, लेकिन पाकिस्तान ने कभी सकारात्मक जवाब नहीं दिया है। अब फिर जंगबंदी को बहाल करने के साथ उसे दोस्ती की पेशकश की गई है। मेरा मानना है कि पाकिस्तान को खुले दिल से आगे आकर इस दुश्मनी को समाप्त करना चाहिए।

केंद्रीय मंत्री सुषमा स्वराज द्वारा आतंकवाद के खात्मे तक बातचीत से इन्कार किए जाने पर उपमुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने यह बात यूं ही नहीं कही है। इसके पीछे एक ठोस आधार रहा है। राज्य में अमन बहाली के लिए केंद्र व राज्य सरकार द्वारा किए जा रहे प्रयासों का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि हुíरयत को इस बातचीत के लिए आगे आना चाहिए। कश्मीर को धरती की जन्नत कहा जाता है। इस जन्नत में अमन और सुरक्षा का माहौल बनाने के लिए सभी को आगे आना होगा। कश्मीर की आजादी का नारा लगाने वालों को कश्मीर के पाकिस्तान विलय का ख्वाब भूल जाना चाहिए।

आज भी पार्टी के वफादार है लाल सिंह और चंद्र प्रकाश

भाजपा नेता चौ. लाल ¨सह को भाजपा प्रमुख अमित शाह द्वारा खुली छूट के संदर्भ में उपमुख्यमंत्री ने कहा कि सीबीआइ जांच की मांग किसी के खिलाफ नहीं हैं। उन्हें अन्य मामलों पर भी खुली छूट है। चौ. लाल ¨सह और चंद्र प्रकाश गंगा ने स्वेच्छा से इस्तीफा दिया है। ये दोनों नेता आज भी पार्टी के वफादार सिपाही की तरह संगठन केा मजबूत बनाने में जुटे हैं।

हालात सामान्य होने पर हटाया जाएगा अफस्पा

कविंद्र गुप्ता ने कहा कि युद्धविराम का एलान कश्मीर में शांति और सौहार्द का माहौल मजबूत बनाने के लिए किया गया है। सशस्त्र बल विशेषाधिकार कानून (अफस्पा) संबंधी सवाल उन्होंने कहा कि पूर्वाेत्तर में यह कानून हटाया गया है। कश्मीर में भी हालात सामान्य होने पर इसे हटाया जाएगा।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

error: Content is protected !!
%d bloggers like this: